मंथन 5, एएईटीआई, निमली


यह सीएसई और अनिल अग्रवाल एनवायरमेंट ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (एएईटीआई) का ट्रेनिंग कोर्स है जिसे विशेष तौर से हिंदी मीडिया के लिए डिजाइन किया गया है। पत्रकारों की स्टोरी को विश्वसनीय बनाने में आंकड़ों और डेटा की काफी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

गिनती, सांख्यिकी और आंकड़े खबरों की विश्वसनीयता को और अधिक बढा देते हैं। इसलिए हम बताते हैं कि जो कुछ भी हम रिपोर्ट के जरिए लिखकर या कहकर बताना चाहते हैं वह हम आंकड़ों के साथ कैसे प्रभावी तरीके से लिख या बता सकते हैं।

पर्यावरण संचार व प्रशिक्षण के लिए समर्पित अनिल अग्रवाल एनवायरमेंट ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (एएईटीआई) हिन्दी पत्रकारों के लिए इस तरह की कार्यशालाएं आयोजित करते रहता है। इसका उद्देश्य हिन्दी पत्रकारों में आंकड़ों की समझ को बढ़ाना और रिपोर्ट में आंकड़ों को रोचक व सरल तरीके से पेश करने की कौशल क्षमता को विकसित करना है ताकि रिपोर्ट को और भी प्रभावी तरीके से लिखा जा सके।

वे क्या कहते हैं

MRC network membership
Click here to fill the form
समन्वयक
Sukanya Nair
Programme Officer
Media Resource Centre, CSE
कोर फैकल्टी
Sunita Narain
Director General, CSE,
New Delhi
Souparno Banerjee
Senior Director
Outreach and Publications, Environment Education
Richard Mahapatra
Managing Editor,
Down to Earth
Kiran Pandey
Programme Director,
Environment Resources Unit,
CSE
Rajit Sengupta
Assistant Editor Copy
Down to Earth magazine
हिन्दी कार्यक्रम: मुद्दा

फोटो गैलरी